Post Jobs

भारत के केरल राज्य में लोगों ने किया डॉक्टरों पर हमला

 डॉक्टरों पर हमला :- 

भारत सरकार लगातार इस महामारी से बचने के लिए अधिक सावधानियां का पालन कराने के लिए आग्रह कर रही है वहीं कुछ कारणवश एक नई मुसीबत सामने आ जाती है। ऐसा ही हुआ है भारत के केरल राज्य में। दरअसल यह घटना कोरोना वायरस से पीड़ित से जुड़ी हुई है कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ी जा रही इस लड़ाई में सबसे आगे खड़े होने वाले स्वास्थ्य कर्मियों पर हमले की घटनाएं लगातार आ रही हैं। कहीं डॉक्टरों पर हमला किया जा रहा है तो कहीं पुलिसकर्मियों पर। इस मामले में कुछ लोग कोरोना वायरस से पीड़ित एक व्यक्ति की मौत के बाद उसे दफनाने के लिए ले जा रहे थे जिसमें कुछ डॉक्टर भी शामिल थे तभी लोगों की भीड़ ने उन पर हमला कर दिया, पीड़ित डॉक्टर की निजी अस्पताल में रविवार को मौत भी हो गई है। 

हाई रोड पर स्थित अस्पताल के प्रमुख 55 वर्षीय डॉ केशव को रविवार रात को किलपॉक के पास कब्रिस्तान में स्थानांतरित कर दिया गया था हालांकि इस सड़क पर 200 लोग इकट्ठा हो गए थे और उन्होंने विरोध प्रदर्शन भी शुरू किया था। आर्थ्रोस्कॉपी सर्जन सलाहकार श्री प्रदीप कुमार जी ने कहा है कि चेन्नई नगर निगम के कर्मचारियों ने सभी व्यवस्थाओं की देखरेख भी की थी और हमारे साथ अस्पताल में कब्रिस्तान तक आए थे हालांकि वहां तक पहुंचने पर हमने पाया कि लगभग 200 लोगों की भीड़ इकट्ठा हुई है और उन्होंने विरोध करना शुरू कर दिया है इस बारदात पर पुलिस मौके पर पहुंच चुकी थी। निगम अधिकारियों ने कहा कि हमें बेलाकु स्थान में स्थित कब्रिस्तान में जाना है हम अन्य कब्रिस्तान पर पहुंचे और उस स्थान पर भारतीय लोक डाउन के नियमों के अनुसार हम बहुत कम लोग शामिल हुए थे जिसमें डॉक्टर और परिवार के सदस्य भी शामिल हुए थे।

फिर उन्होंने बताया कि अचानक वहां पर 50 से 60 लोगों की भीड़ आई और उन्होंने हम पर हमला कर दिया। उन लोगों ने पत्थर और लाठियों से मारना शुरू कर दिया। इसी मौके पर लगभग 7 से 8 निगम के कर्मचारी मौजूद थे उन्होंने हमें हमले से बचाने के लिए घटनास्थल से भागने को कहा व भगाना पड़ा हम में से बहुत से लोगों के शरीर में से खून लगातार निकल रहा था कुछ हमला करने वालों ने अस्पताल की एंबुलेंस के विंडशील्ड को क्षतिग्रस्त कर दिया।

बात सिर्फ यहीं खत्म नहीं हुई इस घटना में एंबुलेंस ड्राइवर को भी काफी चोट आई तथा घायल एंबुलेंस ड्राइवर ने कहा कि सरकार किलपॉक मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उनके सिर में काफी टांके लगाए गए हैं व अन्य साथी के सिर में भी चोट लगी है और उन्हें भी टांके लगाए गए हैं।

 हालांकि अभी स्वस्थ विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पुलिस की सुरक्षा में तथा पुलिस कर्मचारियों की उपस्थिति में उत्सव को दफना दिया गया है।

भारत के केरल राज्य में लोगों ने किया डॉक्टरों पर हमला

0Shares
0Shares