Post Jobs

बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुक्त राशन मिलेगा

बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुक्त राशन मिलेगा

कोरोना वायरस महामारी बीमारी के जूझते हालातों को लेकर बिहार में राशन कार्ड वाले परिवारों को 1 महीने के लिए मुक्त राशन मिलेगा:-

अभी इस महामारी बीमारी कोरोनावायरस की वजह से बिहार में भी 31 मार्च तक लोग डाउन किया गया है, इसी बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने बड़ी घोषणा की है।


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने कहा है कि राज्य में जिन लोगों के पास राशन कार्ड उपलब्ध हैं उन्हें अगले अगले दिन से ही 1 महीने तक मुफ्त राशन दिया जाएगा।उन्होंने यह भी कहा है कि लॉक डाउन वाले क्षेत्रों में राशन कार्ड रखने वाले प्रत्येक परिवार को ₹1000 साथ में ही मिलेंगे तथा साथ ही कक्षा एक से कक्षा बारहवीं तक के समस्त छात्रों को 31 मार्च तक छात्रवृत्ति भी मिल सकेगी।

इसके साथ-साथ उन्होंने यह बड़ी घोषणा भी की है कि समस्त बेंसेरों को भी 3 महीने की पेंशन अग्रिम ही मिल सकेगी इसके साथ-साथ स्वास्थ्य अधिकारियों और मजदूरों को भी पुरस्कार के रूप में 1 महीने का अतिरिक्त वेतन व सैलरी प्रदान की जाएगी।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से रविवार को तीन और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 7 हो गई है मृतकों में बिहार और गुजरात में हुई एक एक व्यक्ति की मौत का यह मामला भी शामिल है।कॉविड19 के इस मामले की संख्या बढ़कर 390 हो चुकी है‌।

इसी के बीच इस बारिश के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 22 मार्च की मध्यरात्रि से 31 मार्च की मध्यम रात्रि तक समस्त प्रकार की यात्री ट्रेन और परिवहन तथा अंतर राज्य बस सेवाओं को भी बंद घोषित किया जाता है यह घोषणा की गई है कि अभूतपूर्व कदम उठाते हुए 80 जिलों में भी लोक-डाउन किया जाएगा ‌।

हालांकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने पिछले ही सप्ताह घोषणा की थी कि इसको ना भारत से संक्रमित समस्त लोगों के इलाज का खर्च पूर्ण रूप से राज्य सरकारी उठाएगी यही नहीं बल्कि इस बीमारी से मौत होने पर प्रत्येक मरीज के परिजनों व परिवार वालों को ₹4 लाख का मुआवजा भी प्रदान किया जाएगा इस तरह कोरोना वायरस के कारण भारतीय रेलवे ने अपनी समस्त प्रकार की यात्रा सेवाओं को भी बंद करने का नोटिस जारी कर दिया है केवल माल गाड़ियां ही चलित अवस्था में रहेंगी तथा इस अवस्था में 13523 ट्रेनों पहिए थम चुके हैं इनमें से 5881 एएमयू 3695 मेल एक्सप्रेस और 3947 पैसेंजर ट्रेनों को भी शामिल किया गया है।पर रविवार रात रेलवे ने यह समस्त प्रकार की यात्रा सेवाओं को बंद करने का फैसला लिया गया है।

बिहार मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह समय मजाक करने का समय नहीं है सभी को गंभीर रूप से इस कर्फ्यू अथवा लॉक डाउन पर अमल करना होगा‌ इसके साथ ही हम सब इस महामारी बीमारी से सुरक्षित हो पाएंगे उन्होंने कहा है कि अभी तक भारत में बढ़ रहे संक्रमण आंकड़ों को मध्य नजर रखते हुए यह कहा जा सकता है कि इस पूरी महामारी बीमारी को रोकने का श्रेय हम सभी भारत वासियों को जाता है।

भारत सरकार भी इस महामारी को समाप्त करने के लिए अधिक से अधिक अनेक प्रयासों का पालन कर रही है तथा समस्त प्रकार से सभी देशवासियों से आग्रह कर रही है कि आप भी एक दूसरे का साथ दें।वहीं देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी ने भी है आसवन दिया है कि जल्द ही इस महामारी वायरस से छुटकारा पा सकेंगे।

इसके इलाज व एंटीटोड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण रूप से लगातार चल रही है तथा इस संक्रमण को रोकने का सबसे महत्वपूर्ण तरीका यह है कि सभी देशवासियों को जनता कर्फ्यू का पालन करना होगा व किसी भी प्रकार की यात्रा पर रोक लगानी होगी तथा इसके साथ ही अगर किसी को इस बीमारी से संबंधित कुछ लक्षण दिखाई दें तो तुरंत निकटतम अस्पताल में जाकर व स्वास्थ्य मंत्रालय पर जानकारी दें, इसकी पुष्टि करें कि आप इस वायरस से ग्रसित हो या नहीं।

0Shares

About

Note:- sarkariresultindia.org is now the No. 1 website for Government Jobs information. Our aim is to provide information in a simplified manner so that users can easily identify the jobs as per their choice

WhatsApp No.7005643721

0Shares